ऑपरेशन सजग’ (Operation Sajag)

ऑपरेशन सजग’ (Operation Sajag)

उत्तर पश्चिम जिला दिल्ली पुलिस के अनुसार हाल ही में, ‘ऑपरेशन सजग’ की शुरुआत के बाद पुलिस नियंत्रण कक्ष में कॉल की संख्या में 24% की कमी आई है।

उत्तर पश्चिम जिले के पुलिस उपायुक्त ने कहा कि पुलिस आयुक्त के दिशा-निर्देशों को ध्यान में रखते हुए स्नैचिंग, डकैती, वाहन चोरी जैसी आपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए विशेष अभियान चलाया गया।

मुख्य बिंदु:

  • पुलिस के अनुसार अभियान शुरू होने के बाद से अब तक लुटेरों और स्नैचरों समेत 8006 अपराधियों और असामाजिक तत्वों को गिरफ्तार किया जा चुका है।
  • ‘ऑपरेशन सजग’ और पुलिस द्वारा लागू की गई ऐसी अन्य प्रभावी पुलिसिंग विधियों के कारण पीसीआर कॉल में 24% की भारी गिरावट आई है।
  • निवारक कार्रवाई में 47% की वृद्धि हुई है।
  • स्ट्रीट क्राइम में 33 फीसदी की गिरावट आई है।

ऑपरेशन सजग के बारे में

सड़क अपराध की घटनाओं पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से 4 अक्टूबर, 2021 को ‘ऑपरेशन सजग’ शुरू किया गया था। इसकी शुरुआत नॉर्थ वेस्ट डिस्ट्रिक्ट दिल्ली पुलिस ने की थी। इस पहल में गहन जांच और विशेष खोज शामिल हैं। इस ऑपरेशन के हिस्से के रूप में, सड़क अपराधों को नियंत्रित करने और अपराधियों को पकड़ने के लिए क्षेत्र में और अधिक गश्ती बाइक जोड़कर गश्त को भी बढ़ाया गया था। ऑपरेशन मुख्य रूप से आग्नेयास्त्रों, अवैध शराब, ड्रग्स और चोरी की संपत्ति के स्रोत का पता लगाने पर केंद्रित है।

ऑपरेशन के तहत अपनाई गई रणनीतियां

इस ऑपरेशन के तहत अपनाई गई रणनीतियों में शामिल हैं:

  • रात्रि के समय गश्त पर विशेष ध्यान देने के साथ व्यापक राजमार्ग पर गश्त
  • समूह और पैदल गश्त
  • विशिष्ट क्षेत्रों पर ध्यान देने के साथ गतिशील परिनियोजन (dynamic deployment)
  • GPS द्वारा निगरानी रखने वाले वाहन पेट्रोलिंग
  • क्षेत्र प्रभुत्व बूथों की स्थापना का प्रावधान

स्रोत: द हिंदू

Download Our App

MORE CURRENT AFFAIRS

Share with Your Friends

Join Our Whatsapp Group For Daily, Weekly, Monthly Current Affairs Compilations

Related Articles

Youth Destination Facilities