ट्राई (TRAI) द्वारा भारत में नेटवर्किंग और दूरसंचार उपकरण निर्माण के लिए सलाह

ट्राई (TRAI) द्वारा भारत में नेटवर्किंग और दूरसंचार उपकरण निर्माण के लिए सलाह

हाल ही में ट्राई (TRAI) ने भारत में नेटवर्किंग और दूरसंचार उपकरण निर्माण (NATEM) को बढ़ावा देने हेतु परामर्श पत्र जारी किया है ।

भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (TRAI) ने देश में नेटवर्क उपकरणों के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए एक परामर्श पत्र जारी किया है। इसमें दूरसंचार उपकरण उत्पादन से संबद्ध प्रोत्साहन (PLI) योजना में व्याप्त कमियों को दूर करने के उपाय सुझाए गए हैं।

वर्ष 2021 में, सरकार ने दूरसंचार और नेटवर्किंग उत्पादों के लिए PLI योजना शुरू की थी।

इसके निम्नलिखित उद्देश्य हैं:

  • निवेश एवं टर्नओवर में वृद्धि को प्रोत्साहित करके घरेलू नेटवर्किंग और दूरसंचार उपकरण NATEM) निर्माण को बढ़ावा देना।
  • दूरसंचार उपकरणों के अत्यधिक आयात को कम करना और इसके स्थान पर भारत में निर्मित उत्पादों का उपयोग करना।

PLI योजना में कमियां:

  • हार्डवेयर क्षेत्र में स्टार्टअप्स के लिए धन की उपलब्धता का अभाव है।
  • सस्ते आयात के विरुद्ध रक्षोपायों की कमी के कारण स्थानीय विनिर्माण बुरी तरह प्रभावित हो रहा है।
  • दूरसंचार उपकरणों के निर्माण के लिए निगरानी और सुविधा की कमी है।
  • स्वदेशी विनिर्माताओं के लिए बाजार पहुंच का अभाव है।
  • तकनीक में तेजी से बदलाव हो रहे हैं।
  • स्वदेशी विनिर्माताओं के लिए वित्तपोषण के विकल्प उपलब्ध नहीं हैं।

परामर्श पत्र में दिए गए सुझाव

  • दूरसंचार उद्यमिता संवर्धन कोष और दूरसंचार विनिर्माण संवर्धन कोष की स्थापना की जानी चाहिए।
  • वैश्विक मूल्य श्रृंखलाबों में भारत के योगदान में बढ़ोतरी की जानी चाहिए।
  • अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी निर्माण केंद्र की स्थापना की जानी चाहिए।
  • विनिर्माण को सुविधाजनक बनाने के लिए टेक्नॉलजी पार्क जैसे बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाना चाहिए।
  • विद्युत की उपलब्धता और मूल्य निर्धारण से संबंधित मुद्दों का समाधान किया जाना

देश में नेटवर्किंग और दूरसंचार उपकरण निर्माण (NATEM) को बढावा देने के लिए सरकार द्वारा किए गए उपायः

  • वर्ष 2026 तक 300 अरब डॉलर मूल्य के इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण का लक्ष्य प्राप्त करने के लिए कई PLI योजनाएं शुरू की गई हैं।
  • डिजिटल सशक्तीकरण प्राप्त करने के लिए डिजिटल संचार नेटवर्क की परिवर्तनकारी शक्ति का लाभ उठाना महत्वपूर्ण है। इसके लिए राष्ट्रीय डिजिटल संचार नीति, 2018 घोषित की गई है।
  • राष्ट्रीय सॉफ्टवेयर उत्पाद नीति, 2019 घोषित की गयी है। इसका उद्देश्य बौद्धिक संपदा द्वारा संचालित एक सतत भारतीय सॉफ्टवेयर उत्पाद उद्योग के निर्माण को बढ़ावा देना है।
  • वर्ष 2021 में, दूरसंचार विभाग ने विश्वसनीय स्रोतों से नेटवर्किंग और दूरसंचार उपकरणों की खरीद के लिए लाइसेंस प्रणाली में संशोधन किए थे। इससे दूरसंचार नेटवर्क की सुरक्षा सुनिश्चित होगी।
  • इनक्यूबेशन सेंटर्स स्थापित किये गए हैं। ये नए व्यवसायों और उदीयमान कंपनियों की स्थापना एवं विकास में मदद करेंगे।

स्रोत –द हिन्दू

Download Our App

MORE CURRENT AFFAIRS

Share with Your Friends

Join Our Whatsapp Group For Daily, Weekly, Monthly Current Affairs Compilations

Related Articles

Youth Destination Facilities