आयुष वीजा (Ayush visa)

आयुष वीजा (Ayush visa)

हाल ही में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने आयुष प्रणालियों/भारतीय चिकित्सा प्रणालियों के तहत उपचार हेतु विदेशी नागरिकों के लिए आयुष वीजा (Ayush visa) की एक नई श्रेणी के निर्माण को अधिसूचित किया है।  इसे ‘आयुष (एवाई)’ कहा जायेगा।

इसके तहत चैप्टर 11- मेडिकल वीजा ऑफ द वीजा मैनुअल के बाद एक नया चैप्टर यानी चैप्टर 11A- आयुष वीजा शामिल किया गया है, जो भारतीय चिकित्सा प्रणालियों के तहत उपचार से संबंधित है । इसी अनुसार वीज़ा मैनुअल, 2019 के विभिन्न चैप्टर में आवश्यक संशोधन किए गए हैं।

ज्ञातव्य हो कि प्रधानमंत्री ने अप्रैल 2022 गुजरात में वैश्विक आयुष निवेश और नवाचार शिखर सम्मेलन (जीए आईआईएस) में आयुष चिकित्सा की तलाश में रहने वाले विदेशी नागरिकों को भारत की यात्रा सुविधाजनक बनाने के लिए एक विशेष आयुष वीजा श्रेणी बनाने की घोषणा की थी।

आयुष वीजा से लाभ:

  • आयुष वीज़ा श्रेणी की शुरूआत हील इन इंडिया पहल के लिए भारत के रोडमैप का हिस्सा है ।
  • यह भारत में मेडिकल वैल्यू टूरिज्म को बढ़ावा देगा और भारतीय पारंपरिक चिकित्सा को एक वैश्विक घटना बनाने के दृष्टिकोण को पूरा करने के प्रयास को मजबूत करेगा।
  • आयुष मंत्रालय और स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय भारत को दुनिया के मेडिकल पर्यटन स्थल के रूप में बढ़ावा देने के लिए वन स्टॉप हील इन इंडिया पोर्टल विकसित करने के लिए मिलकर काम कर रहे हैं।
  • हाल के वर्षों में भारत में मेडिकल वैल्यू ट्रैवल में उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई है । ग्लोबल वेलनेस इंस्टीट्यूट (जीडब्ल्यूआई) की रिपोर्ट ‘द ग्लोबल वेलनेस इकोनॉमी: लुकिंग बियॉन्ड सीओवीआईडी’ के अनुसार, ग्लोबल वेलनेस इकोनॉमी सालाना 9.9% की दर से बढ़ेगी।

आयुष चिकित्सा पद्धति

  • आयुष भारत में प्रचलित चिकित्सा प्रणालियों जैसे आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी का संक्षिप्त रूप है।
  • 2014 में, भारत सरकार द्वारा पारंपरिक भारतीय चिकित्सा प्रणालियों के गहन ज्ञान को पुनर्जीवित करने की दृष्टि से आयुष मंत्रालय का गठन किया गया था।
  • WHO – ग्लोबल सेंटर फॉर ट्रेडिशनल मेडिसिन (WHO-GCTM) अपनी तरह का पहला और एकमात्र केंद्र जामनगर, गुजरात बन रहा है।
  • आयुष उत्पादों के लिए एक विशेष आयुष चिह्न, देश भर में आयुष उत्पादों के प्रचार, अनुसंधान और विनिर्माण को प्रोत्साहित करने के लिए आयुष पार्कों का विकास किया जा रहा है ।

स्रोत – द हिन्दू

Download Our App

More Current Affairs

Share with Your Friends

Join Our Whatsapp Group For Daily, Weekly, Monthly Current Affairs Compilations

Related Articles

Youth Destination Facilities