Print Friendly, PDF & Email

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत को दिए ‘ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत को दिए ‘ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’

  • हाल ही में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO ) ने कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में वृद्धि और ऑक्सीजन की कमी के चलते भारत को 4,000 ‘ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’ देने की घोषणा की है।

मुख्य तथ्य :

  • ‘ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’ एक ऑक्सीजन निर्माण करने वालाचिकित्सा उपकरण है, यह हमारे पर्यावरण में मौजूदवायु से ऑक्सीजन को एकत्रितकरता है।
  • ज्ञातव्य हो किवायुमंडलीय् गैसोंमें लगभग 78 प्रतिशत नाइट्रोजन और 21 प्रतिशत ऑक्सीजन है बाकी 1 प्रतिशत भाग अन्य गैसों का है।
  • ‘ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’ वायुमंडल से वायु लेकर उसको ‘फिल्टर’ करके उसमें मौजूद नाइट्रोजन को वापस वायुमंडलमें निर्मुक्त करकेशुद्ध ऑक्सीजनप्राप्तकराताहै।
  • ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’ से प्राप्त ऑक्सीजन 90-95 प्रतिशत तक शुद्ध होतीहै। हालाँकिइससे प्राप्त ऑक्सीजन पूरी तरह से शुद्ध नहीं होती है, और अत्यंत कम ऑक्सीजन सेचुरेशन वाले मरीजों में यह काम नहीं करती है ।
  • लेकिनविशेषज्ञों के अनुसार85% या उससे अधिक ऑक्सीजन सेचुरेशन स्तर वाले कम संक्रमित कोविड-19 रोगियों के लिये यह पर्याप्त होतीहै।
  • ‘ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’ में स्थित दबाव वाल्व ऑक्सीजन की आपूर्ति को 1-10 लीटर प्रति मिनट तक स्थिर कर उसे विनियमित करने में सहायता करता है।
  • ‘ऑक्सीजन कंसंट्रेटर’ को लगातार संचालित किया जा सकता है और यहलगभग5 वर्ष अथवा उससे समयतक चौबीसों घंटे ऑक्सीजन का निर्मुक्तकर सकता है।

स्रोत:पीआईबी

Download Our App

MORE CURRENT AFFAIRS

 

Open chat
1
Youth Destination IAS . PCS
To get access
- NCERT Classes
- Current Affairs Magazine
- IAS Booklet
- Complete syllabus analysis
- Demo classes
https://online.youthdestination.in/