वर्ल्ड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (WRI) द्वारा जल संकट पर रिपोर्ट जारी

वर्ल्ड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (WRI) द्वारा जल संकट पर रिपोर्ट जारी

हाल ही में हाल ही में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार विश्व की एक-चौथाई आबादी अत्यधिक गंभीर जल संकट (Extremely high water stress) का सामना कर रही है।

वर्ल्ड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (WRI) द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, भारत सहित 25 देश हर साल अत्यधिक गंभीर जल संकट का सामना कर रहे हैं।

किसी देश द्वारा सामना किए जा रहे है “एक्सट्रीम वॉटर स्ट्रेस” से आशय यह है कि वह देश वार्षिक रूप से उपलब्ध जलापूर्ति का कम-से-कम 80 प्रतिशत हिस्सा उपयोग करता है।

इसी प्रकार “हाई वॉटर स्ट्रेस” से तात्पर्य वार्षिक रूप से उपलब्ध जलापूर्ति के कम-से-कम 40 प्रतिशत हिस्से का दोहन करने से है।

अन्य प्रमुख बिंदु:

  • विश्व की 50 प्रतिशत आबादी वर्ष में कम-से-कम एक महीने अत्यधिक जल संकट वाली परिस्थितियों का सामना करती हैं।
  • वर्ष 2050 तक वैश्विक सकल घरेलू उत्पाद (GDP) का 31 प्रतिशत हिस्सा गंभीर जल संकट (High water stress) से प्रभावित होगा।
  • वर्ष 2050 तक गंभीर जल संकट से प्रभावित वैश्विक GDP के आधे से अधिक हिस्से के लिए चार देश अर्थात भारत, मेक्सिको, मिस्र और तुर्की जिम्मेदार होंगे।
  • विश्व की 60 प्रतिशत सिंचित कृषि भूमि अत्यधिक गंभीर जल संकट का सामना कर रही है।

वैश्विक स्तर पर जल संकट के कारण:

  • जल के उपयोग में वृद्धि हुई है,
  • जल से संबंधित अवसंरचनाओं में निवेश की कमी है,
  • जल के उपयोग से संबंधित नीतियां संधारणीय नहीं हैं.
  • जलवायु परिवर्तन के कारण जल की उपलब्धता में अंतर में वृद्धि हुई है आदि ।

प्रमुख सिफारिशें:

  • प्रकृति-आधारित समाधानों और हरित अवसंरचनाओं के विकास के माध्यम से जल उपयोग शासी संरचना में सुधार करना चाहिए।
  • डेब्ट फॉर नेचर स्वैप जैसे कार्यक्रमों को अपनाने पर विचार किया जाना चाहिए। इस तरह के कार्यक्रमों में मैंग्रोव पुनर्बहाली या आर्द्रभूमि संरक्षण में निवेश की प्रतिबद्धता शामिल होनी चाहिए।
  • जल-उपयोग दक्षता वाली फसलों की खेती को बढ़ावा देना चाहिए। इसके तहत खेतों में नालियों द्वारा सिंचाई के बदले स्प्रिंकलर या ड्रिप सिंचाई जैसी पद्धतियों का उपयोग करना चाहिए।
  • शहरों में शहरी जल लोचशीलता कार्य योजनाएं विकसित की जानी चाहिए ।

भारत में जल संरक्षण के लिए की गई पहलें:

  • राष्ट्रीय जल मिशन आरंभ किया गया है।
  • मनरेगा, अटल भूजल योजना, प्रधान मंत्री सिंचाई योजना (PMKSY), अमृत मिशन, जल जीवन मिशन जैसी अलग–अलग योजनाओं के तहत जल संरक्षण पहलें शामिल हैं।
  • जल शक्ति अभियान – कैच द रेन चलाया जा रहा है।
  • सही फसल अभियान शुरू किया गया है।

वर्ल्ड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (WRI):

  • डब्ल्यूआरआई एक वैश्विक अनुसंधान संगठन है जो 50 से अधिक देशों में फैला हुआ है और पर्यावरण और विकास के छह महत्वपूर्ण मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करता है: जलवायु, ऊर्जा, भोजन, वन, जल और शहर और परिवहन।
  • इसकी स्थापना 1982 में हुई थी। इसका मुख्यालय वाशिंगटन, अमेरिका में है।

स्रोत – डबल्यू.आर.आई.

Download Our App

More Current Affairs

Share with Your Friends

Join Our Whatsapp Group For Daily, Weekly, Monthly Current Affairs Compilations

Related Articles

Youth Destination Facilities