लेजर इंटरफेरोमीटर ग्रेविटेशनल वेव ऑब्जर्वेटरी (LIGO) की नई खोज

लेजर इंटरफेरोमीटर ग्रेविटेशनल वेव ऑब्जर्वेटरी (LIGO) की नई खोज

हाल ही में अमेरिका स्थित ‘लेजर इंटरफेरोमीटर ग्रेविटेशनल वेव ऑब्जर्वेटरी (LIGO) ने न्यूट्रॉन स्टार-ब्लैक होल (NS-BH) संघट्टन (Collision) से गुरुत्वाकर्षण तरंगों के नए स्रोत का पता लगाया है। वैज्ञानिकों ने पूर्व में ब्लैक होल के टकराने और न्यूट्रॉन सितारों के टकराने के संकेतों की खोज की थी, परन्तु अब तक ब्लैक होल के न्यूट्रॉन स्टार के साथ विलय की पुष्टि नहीं की थी।

मुख्य बिंदु

  • न्यूट्रॉन तारे तब निर्मित होते हैं, जब एक विशाल तारा ऊर्जा की कमी से समाप्त हो जाता है।
  • वैज्ञानिकों ने न केवल एक, बल्कि ऐसी दो दुर्लभ घटनाओंका अवलोकन किया है, जिनमें से प्रत्येक में गुरुत्वाकर्षण तरंगें (Gw) दर्ज की गई हैं।
  • इनका पता संयुक्त राज्य अमेरिका में अवस्थित लिगो (LIGO) और इटली में स्थित वर्गो (Virgo) द्वारा लगाया गया था।
  • संकेत का पता लगाने के लिए प्रयोग की जाने वाली तकनीक को मैच्ड फिल्टरिंग (Matched filtering) कहा जाता है।

गुरुत्वाकर्षण तरंगें

  • गुरुत्वाकर्षण तरंगें स्पेस-टाइम में उत्पन्न लहरें हैं, जो ब्रह्मांड में कुछ सबसे उग्र और ऊर्जावान प्रक्रियाओं के कारणउत्पन्न होती हैं व प्रकाश की गति से गमन करती हैं।
  • वे अपने साथ अपनी प्रलयकारी उत्पत्ति के बारे में जानकारी केसाथ-साथ गुरुत्वाकर्षण की प्रकृति के अमूल्य भेद भी समाहित करती हैं।

इनका निर्माण तब होता है, जब:

  • पिंड बहुत तेज गति से गमन करता है,
  • जब किसी तारे में असममित रूप से विस्फोट होता है (जिसे सुपरनोवा कहा जाता है),
  • जब दो बड़े तारे एक दूसरे की परिक्रमा करते हैं,
  • जब दो ब्लैक होल एक दूसरे की परिक्रमा करते हैं औरआपस में विलीन हो जाते हैं।

अल्बर्ट आइंस्टीन ने वर्ष 1916 में अपने सामान्य सापेक्षता के सिद्धांत में गुरुत्वाकर्षण तरंगों के अस्तित्व की भविष्यवाणी की थी।

लिगो (LIGO)

  • गुरुत्वाकर्षण तरंगों का पता पहली बार वर्ष 2015 में अमेरिका में स्थित लिगो (LIGO) द्वारा लगाया गया था । लिगो विश्व की सबसे बड़ी गुरुत्वाकर्षण तरंग वेधशाला है, जिसमें दो विशाल लेजर व्यतिकरणमापी (Interferometers)स्थापित किए गए हैं।
  • लिगो की 3 अन्य सहायक सुविधाएं हैं यथाः इटली में वर्गो, जर्मनीमें जियो 600 (GEO600) और जापान में काग्रा (KAGRA)
  • इसके अतिरिक्त, लिगो-इंडिया महाराष्ट्र के हिंगोली जिले मेंस्थापित एक भारत-अमेरिका संयुक्त डिटेक्टर है।

स्रोत – द हिन्दू

Download Our App

More Current Affairs

Share with Your Friends

Join Our Whatsapp Group For Daily, Weekly, Monthly Current Affairs Compilations

Related Articles

Youth Destination Facilities