राष्ट्रीय हरित भारत मिशन (GIM) वन – आवरण व वृक्षारोपण बढ़ोतरी के लक्ष्यों पीछे

राष्ट्रीय हरित भारत मिशन (GIM) वन – आवरण व वृक्षारोपण बढ़ोतरी के लक्ष्यों पीछे

हाल ही में सूचना के अधिकार अधिनियम (RTI) के माध्यम से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार भारत, ग्रीन इंडिया मिशन के तहत निर्धारित वृक्षों की संख्या व उनकी गुणवत्ता बढ़ाने तथा वन- आवरण वृक्षारोपण में बढ़ोतरी के लक्ष्यों में पिछड़ रहा है।

राष्ट्रीय हरित भारत मिशन (National Mission for a Green India: GIM) के बारे में

नेशनल मिशन फॉर ए ग्रीन इंडिया (GIM) राष्ट्रीय जलवायु परिवर्तन कार्य योजना (National Action Plan on Climate Change) के तहत आठ मिशनों में से एक है।

इसका उद्देश्य भारत के वन आवरण के संरक्षण, रेस्टोरिंग और बढ़ोतरी करना और जलवायु परिवर्तन से निपटना है।

मिशन के लक्ष्य हैं- वन और गैर-वन भूमि पर 10 मिलियन हेक्टेयर का वन / वृक्ष आवरण बढ़ाना और मौजूदा वन की गुणवत्ता में सुधार करना है।

इसका उद्देश्य भारत के वन आवरण की रक्षा, बहाली और वृद्धि करना और जलवायु परिवर्तन का जवाब देना है।

2015-16 से 2021-22 तक, केंद्र ने 17 राज्यों से प्राप्त डेटा के आधार पर – 53,377 हेक्टेयर में वृक्षों/वन आवरण को बढ़ाने और 1,66,656 हेक्टेयर के डेग्रेडेड वन की गुणवत्ता में सुधार लक्ष्य को मंजूरी दी थी।

कहां तक पहुंचा लक्ष्य ?

केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय से प्राप्त RTI जवाब (द हिंदू में प्रकाशित) के अनुसार, 31 दिसंबर, 2022 तक पेड़ / वन आवरण में 26,287 हेक्टेयर की वृद्धि हुई थी और वन की गुणवत्ता में केवल 1,02,096 हेक्टेयर में सुधार हुआ था।

इन परियोजनाओं को क्रियान्वित करने के लिए केंद्र ने 681 करोड़ रुपये आवंटित किए थे, लेकिन केवल 525 करोड़ रुपये का ही उपयोग किया गया था।

वृक्षावरण में महत्वपूर्ण कमी वाले राज्यों में आंध्र प्रदेश शामिल है, जिसने लक्ष्य 186 हेक्टेयर का रख रखा है लेकिन केवल 75 हेक्टेयर हासिल किया है; उत्तराखंड ने 6,446 हेक्टेयर के लक्ष्य के बदले केवल 1,505 हेक्टेयर हासिल किया; मध्य प्रदेश ने 5,858 हेक्टेयर के लक्ष्य के मुकाबले केवल 1,882 हेक्टेयर और केरल ने 1,686 हेक्टेयर की प्रतिबद्धता के बदले केवल 616 हेक्टेयर पूरा कर सका।

भारत वन स्थिति रिपोर्ट – 2021

इंडिया स्टेट ऑफ फॉरेस्ट रिपोर्ट-2021 के अनुसार, 2019 की तुलना देश में वन और वृक्षों के आवरण में 2,261 वर्ग किमी की वृद्धि हुई है।

भारत का कुल वन और वृक्षावरण 80.9 मिलियन हेक्टेयर था, जो देश के भौगोलिक क्षेत्र का 24.62% था।

17 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों का 33% से अधिक क्षेत्र वनों से आच्छादित है। मध्य प्रदेश सर्वाधिक वन आवरण वाला राज्य है, इसके बाद अरुणाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़, ओडिशा और महाराष्ट्र का स्थान है।

कुल भौगोलिक क्षेत्र के प्रतिशत के रूप में वन आवरण के मामले में शीर्ष पांच राज्य हैं-

मिजोरम (84.53%), अरुणाचल प्रदेश (79.33%), मेघालय (76%), मणिपुर (74.34%) और नागालैंड (73.90%)I

स्रोत – द हिन्दू

Download Our App

More Current Affairs

Share with Your Friends

Join Our Whatsapp Group For Daily, Weekly, Monthly Current Affairs Compilations

Related Articles

Youth Destination Facilities