Print Friendly, PDF & Email

भारतीय तटरक्षक दल में अपतटीय गश्ती पोत‘सजग’ शामिल

भारतीय तटरक्षक दल में अपतटीय गश्ती पोत‘सजग’ शामिल

हाल ही में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA), अजीत डोभाल ने भारतीय तटरक्षक अपतटीय गश्ती पोत सजग (Sajag) को समुद्री हितों की रक्षा के लिए नौसेना में शामिल किया है।

मुख्य बिंदु

  • सजग का निर्माण गोवा शिपयार्ड लिमिटेड (Goa Shipyard Limited) द्वारा किया गया है।ऑफशोर पेट्रोल वेसल प्रकृति का यह अत्याधुनिक मशीनरी वाला पोत नवीनतम तकनीक सेंसर और उपकरणों के साथ समुद्री सशस्त्र बलों के लिए स्वदेशी रूप से निर्मित किया गया है ।

पैट्रोल नाव

  • यह एक छोटा नौसैनिक पोत है, जिसे तटीय रक्षा, आव्रजन कानून-प्रवर्तन, सीमा सुरक्षा, खोज और बचाव कार्य के लिए डिज़ाइन किया गया है।
  • उन्हें नौसेना, तट रक्षक, पुलिस बल या सीमा शुल्क द्वारा संचालित किया जा सकता है और समुद्री या मुहाना या नदी के वातावरण के लिए कमीशन किया जा सकता है।
  • वे आमतौर पर सीमा सुरक्षा भूमिकाओं में उपयोग किए जाते हैं जैसे कि एंटी-पायरेसी, एंटी-स्मगलिंग, मत्स्य पालन गश्त और आव्रजन कानून प्रवर्तन इत्यादि।

गश्ती नाव का वर्गीकरण

  • पैट्रोल बोट (Patrol Boat ) को तटवर्ती गश्ती जहाजों (IPV) और अपतटीय गश्ती जहाजों (OPV) के रूप में वर्गीकृत किया गया है।
  • यहछोटे आकार के युद्धपोत हैं, और इनमें फ़ास्ट अटैक क्राफ्ट, मिसाइल बोट्स और टारपीडो बोट्स शामिल हैं। अपतटीय गश्ती पोत (Offshore patrol vessels) नौसेना में सबसे छोटा जहाज है। हालांकि, वे बड़े और समुद्र में चलने योग्य हैं जो तट से दूर की गश्त के लिए पर्याप्त हैं।

स्रोत: पीआईबी

Download Our App

MORE CURRENT AFFAIRS

 

Open chat
1
Youth Destination IAS . PCS
To get access
- NCERT Classes
- Current Affairs Magazine
- IAS Booklet
- Complete syllabus analysis
- Demo classes
https://online.youthdestination.in/