Reading Time: 3 minutes

info@youthdestination.in Call- 981133 4434 , 9582225699 , 98113 34451

UPSC प्रारंभिक परीक्षा पाठ्यक्रम

संघ लोक सेवा आयोग के द्वारा प्रस्तावित इस परीक्षा में आवेदन से लेकर अंतिम परिणाम आने तक लगभग 1 वर्ष का समय लगता हैं । इस समयावधि में परीक्षा के अनुकूल आपकी तैयारी होती रहें और आप बिना वाधित हुए अपनी तैयारी जारी रखे इसके लिए आपको निम्नलिखित बातों को ध्यान रखना होगा –

  • पाठ्यक्रम की व्यापक समझ
  • तैयारी के लिए उपयोगी संसाधन
  • अपनी तैयारी की एक समय सीमा
  • तैयारी कैसे करें इसका एक रोड मैप

उपरोक्त सभी प्रश्नों के उत्तर आपको हमारी वेबसाइट पर विभिन्न (टैब) में मिल जाएगी –

इस आर्टिकल में केवल प्रारंभिक परीक्षा के पाठ्यक्रम पर चर्चा करेंगे –   

2011 में हुए परिवर्तन के द्वारा नई परीक्षा प्रणाली के अनुसार, वर्तमान में प्रारंभिक परीक्षा में दो प्रश्नपत्र होते  हैं। पहला प्रश्नपत्र ‘सामान्य अध्ययन’ का है तथा दूसरा (Civil Services Aptitude Test) या ‘सीसैट’ जिसे हिंदी भाषा में ‘सिविल सेवा अभिवृत्ति परीक्षा’ भी कहा जाता है जो की क्वालीफाइंग पेपर होता हैं

  • दोनों प्रश्नपत्र 200-200 अंकों के होते हैं।
  • पहले प्रश्नपत्र (सामान्य अध्ययन) में 2-2 अंकों के 100 प्रश्न होते हैं
  • तथा दूसरे प्रश्नपत्र (सीसैट) में 2.5-2.5 अंकों के 80 प्रश्न।

निगेटिव मार्किंग

  • दोनों प्रश्नपत्रों में ‘निगेटिव मार्किंग की जाती हैं जिसमे 3 प्रश्नों के गलत उत्तर देने पर 1 सही उत्तर के बराबर अंक काट दिया जाता हैं । मतलब 1/3 की नेगटिव मार्किंग होती हैं –
  • और यही प्रावधान दूसरे प्रश्न पत्र पर भी लागू होता हैं परन्तु इसमें उम्मीदवार को सिर्फ 33 प्रतिशत अंक (यानी 27 प्रश्न या 66 अंक) प्राप्त करने आवश्यक होते हैं । अगर वह इससे कम अंक प्राप्त करता है तो उसे फेल माना जाता है , चाहे प्रथम प्रश्न पत्र में उसके कितने भी अंक हो । अतः मुख्य परीक्षा में जाने के लिए कट-ऑफ का निर्धारण सिर्फ प्रथम प्रश्नपत्र के आधार पर किया जाता है।

प्रारंभिक परीक्षा प्रश्न पत्र -1 (सामान्य अध्ययन )पाठ्यक्रम

राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्त्व की सामयिक घटनाएँ (Current events of national and international importance)

भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन (History of India and Indian National Movement)।

भारत एवं विश्व का भूगोल : भारत एवं विश्व का प्राकृतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल (Indian and World Geography – Physical, Social, Economic Geography of India and the World)।

भारतीय राज्यतंत्र और शासन- संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज, लोकनीति, अधिकारों संबंधी मुद्दे इत्यादि (Indian Polity and Governance – Constitution, Political System, Panchayati Raj, Public Policy, Rights Issues etc)।

आर्थिक और सामाजिक विकास- सतत् विकास, गरीबी, समावेशन, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र में की गई पहल आदि (Economic and Social Development, Sustainable Development-Poverty, Inclusion, Demographics, Social Sector initiatives etc)।

पर्यावरणीय पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु परिवर्तन संबंधी सामान्य मुद्दे, जिनके लिये विषयगत विशेषज्ञता आवश्यक नहीं है (General issues on Environmental Ecologh2y, Bio-diversity and Climate Change – that do not require subject specialization)।

सामान्य विज्ञान (General Science)।

प्रारंभिक परीक्षा प्रश्न पत्र -2 (सीसैट )पाठ्यक्रम

बोधगम्यता (Comprehension)

संचार कौशल सहित अंतर-वैयक्तिक कौशल (Interpersonal skills including communication skills)

तार्किक कौशल एवं विश्लेषणात्मक क्षमता (Logical reasoning and analytical ability)

निर्णय लेना और समस्या समाधान(Decision-making and problem-solving)।

सामान्य मानसिक योग्यता (General mental ability)

आधारभूत संख्ययन (संख्याएँ और उनके संबंध, विस्तार-क्रम आदि) (दसवीं कक्षा का स्तर); आँकड़ों का निर्वचन (चार्ट, ग्राफ, तालिका, आँकड़ों की पर्याप्तता आदि- दसवीं कक्षा का स्तर) [Basic numeracy (numbers and their relations, orders of magnitude, etc.) (Class X level), Data interpretation (charts, graphs, tables, data sufficiency etc. (Class X level)]

अधिक जानकारी के लिए नीचे दिए गए टैब को  क्लिक करे – 

June 2020
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930  
नया क्या हैं ?
Archives

संपर्क सूत्र

यूथ डेस्टिनेशन आई ए एस क्लासेज

639, ग्राउंड फ्लोर , डॉ. मुख़र्जी नगर
सिग्नेचर व्यू अपार्टमेंट के सामने
नई दिल्ली - 110009

महत्वपूर्ण लिंक्स