Print Friendly, PDF & Email

‘झींगुर’ की 12वीं प्रजाति की खोज

‘झींगुर’ की 12वीं प्रजाति की खोज

  • हाल ही में जयंती (Jayanti), नाम की ‘झींगुर’ (Cricket) की बारहवीं प्रजाति की खोज की गई है। इस प्रजाति को ‘अरकोनोमिमस सॉस्योर’ (Arachnomimus Saussure) वर्ग के अंतर्गत चिह्नित किया गया है ।
  • ‘जयंती’ नामक झींगुरकी इस प्रजाति को, प्राणीविज्ञानियों ने छत्तीसगढ़ की कुर्रा गुफाओं (Kurra caves) में हाल ही खोजा था।
  • इसका नामकरण, भारत के प्रमुख ‘गुफा अन्वेषक’ ‘प्रोफेसर जयंत बिस्वास’ के नाम पर किया गया है। प्रोफेसर जयंत ने इस प्रजाति को खोजने बहुत मेहनत के साथ वैज्ञानिकों की काफी सहायता की।
  • वैज्ञानिकों ने इस झींगुर की इस नई प्रजाति में पाया कि कि इनके ‘नर झींगुर’ ध्वनि उत्पन्न नहीं कर सकते हैं और उनकी मादा झींगुरों के कान नहीं होते हैं।

‘अरकोनोमिमस’ (Arachnomimus)

  • वर्ष 1878 में एक स्विस कीटविज्ञानी (Entomologist) ‘हेनरी लुई फ्रेडरिक डी सॉस्योर’ (Henri Louis Frédéric de Saussure) द्वारा मकड़ियों के समान दिखने वाले झींगुरों के वर्ग को ही ‘अरकोनोमिमस’ (Arachnomimus) कहा जाता है ।

स्रोत :इंडियन एक्सप्रेस

Download Our App

MORE CURRENT AFFAIRS

 

Open chat
1
Youth Destination IAS . PCS
To get access
- NCERT Classes
- Current Affairs Magazine
- IAS Booklet
- Complete syllabus analysis
- Demo classes
https://online.youthdestination.in/